पिछली पोस्ट में आपने पढ़ा की मोती कितने प्रकार के होते है इस पोस्ट में हम यह जानकारी प्राप्त करेंगे की Pearl Farming का स्ट्रक्चर कैसे तैयार करते है । साधारणत Pearl Farming दो तरीको से होती है
1 तालाब बना कर
2 पानी की टंकी में

पहले हम तालाब में Pearl Farming करने के तरीको के बारे में चर्चा करेंगे । तालाब में 10000 सीपो के लिए हमें 20 फ़ीट लम्बा 15 फ़ीट चौड़ाई और 7 -8 गहराई वाले तालाब का निर्माण करना होता है । सीपो की संख्या कम या ज्यादा होने की सूरत में तालाब का साइज इस अनुपात में छोटा या बड़ा कर सकते है ।फिर इसमें गोबर यूरिया और सुपर सिंगल फास्फेट मिला कर पानी को कम से कम 10 दिनों तक मैंटेन रखे जब तालाब में पानी रुकना स्थिर हो जाये तो इसमें 7 फ़ीट पानी भर देना चाहिए ।

अब बात करते है तालाब का बंदोबस्त करना शहरी इलाको में काफी मुश्किल है, इसका दूसरा उपाय यह है की तालाब की जगह पर हम पानी से भरी टंकियों का प्रयोग करे । इसके लिए हम किसी भी टंकी का प्रयोग कर सकते है,लेकिन यह ध्यान में रखे की टंकी का ऊपरी हिस्सा खुला रखे और टंकी हमारी सहूलियत के अनुसार 3 फ़ीट गहरी होनी चाहिए । टंकी में pearl Farming करने के लिए टंकी का छाया में होना जरुरी है । पानी की टंकी में पानी में कोई भी केमिकल नहीं होना चाहिए । 200 लीटर पानी की टंकी में कम से 400 सीप का पालन कर सकते है ऐसे ही अगर 100 लीटर वाली टंकी में 200 सीप आ सकती है

पानी की टंकी में मोती पालन

Pearl Farming Traning  लेने के लिए संपर्क करे 9466916266